happy life

जरा हाथ छोड़कर तो देखो ईश्वर तुम्हारा हाथ पकड़ लेगा

New Delhi: समर्पण परमात्मा का पहला चरण है तुम्हारे भीतर। अंधेरा है अभी, लेकिन किरण आ गई। भोर का पहला पक्षी बोला। समर्पण भोर के पहले पक्षी की आवाज है। …

Read More
pravachan

भजन और गायन के द्वारा भगवान को क्यों प्रसन्न किया जाता है?

New Delhi: धर्म को भिन्न तरह की भाषा का चुनाव करना होता है। धर्म को नीति कथाओं में, काव्य में, अलंकारों में और काल्पनिक कथाओं के द्वारा अपनी बात कहनी …

Read More